राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा टेरर फंडिंग केस में छापामारी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा श्रीनगर (जम्मू और कश्मीर) और दिल्ली में नौ स्थानों पर छापेमारी की सूचनाएं हैं। बताया गया है कि सीमा पार से होने वाली टेरर फंडिंग सिलसिले में यह छापामारी की गई है।

जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी की टीम ने आज सुबह मोहम्मद जफर अकबर भट्ट के मकान पर छापा डाला है। जफर बट जम्मू कश्मीर साल्वेशन मूवमेंट के चेयरमैन है। जफर बट अलगाववादी सियासत में सक्रिय होने से पहले हिज्बुल मुजाहिदीन के उन कमांडरों में से एक थे जिन्होंने वर्ष 2000 के दौरान केंद्र सरकार के साथ बातचीत में हिस्सा लिया था बाद में सलाउद्दीन के साथ मतभेद पैदा होने पर इन लोगों ने बंदूक छोड़ दी और सियासत में शामिल हो गए थे।

एनआईए की टीम ने सुबह कश्मीर में अलग-अलग जगहों पर एक साथ छापे मारे हैं। इनमें श्रीनगर और बड़गाम के इलाके शामिल हैं। सूत्रों का कहना है कि टेरर फंडिंग मामले में छापे मारे गए हैं। एनआईए कई दिनों से मामले की जांच करने में लगी हुई है। अब तक हुई जांच में जो सुराग मिले हैं उन्‍हीं के आधार पर यह छापेमारी की गई है।

एनआईए की टीम श्रीनगर पहुंची, साथ में पुलिस और सीआरपीएफ की टीमें भी थीं। ये छापे स्‍थानीय अखबार ग्रेटर कश्‍मीर ट्रस्‍ट के कार्यालय, सोनवर में खुर्रम परवेज और एनजीओ एथ्राउट के एचबी हाउस बोट नेहरू पार्क इलाके में स्थित कार्यालय और आवास पर मारे गए। छापे के दौरान किसी को भी बाहर जाने की इजाजत नहीं दी गई।

एनआईए काफी समय से सीमा पार से होने वाली टेरर फंडिंग मामले की जांच में लगी हुई है। अभी कुछ दिन पहले एक व्यक्ति को कश्मीर से पकडा गया था। सूत्रों का कहना है कि उसकी पूछताछ के बाद नई बातों का पता चला। उसके बाद ही जगहों पर छापे मारे गए है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.