हाथरस हादसा- यह बोले मुख्यमंत्री योगी

सत्संग में मची भगदड़ से अब तक 121 की मौत

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस ज़िले में आयोजित एक सत्संग में मची भगदड़ से अब तक 121 लोगों की मौत की सूचना है । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बुधवार  को प्रेस कॉन्फ़्रेंस मे  कहा कि इसकी जवाबदेही तय होगी और किसी भी दोषी को बख़्शा नहीं जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी ने बताया कि मरने वालों में उत्तर प्रदेश के साथ हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश के लोग भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि “मैं जिन घायल लोगों से मिला, उन्होंने बताया कि हादसा कार्यक्रम के बाद हुआ। सज्जन (नारायण साकार हरि) के मंच से उतरने के बाद उन्हें छूने के लिए उनके पीछे भीड़ गई। इस दौरान लोग एक दूसरे पर चढ़ते गए। सेवादार भी श्रद्धालुओं को धक्का देते रहे,जिसकी वजह से ये घटना हुई।”

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  कहा कि प्हाले इस मामले को दबाने की कोशिश की गई। लेकिन जब प्रशासन घायल लोगों को अस्पताल ले जाने लगा तो ज़्यादातर सेवादार वहां से भाग गए। इस पूरे घटनाक्रम के लिए हमने एडीजी आगरा के अंतर्गत एक एसआईटी गठित की है, जिसने अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट दी है। बहुत सारे ऐसे पहलू हैं जिनपर जांच होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा, ” पहली प्राथमिकता राहत और बचाव कार्य के बाद आयोजकों को पूछताछ के लिए बुलाना और घटना के बारे में उनसे पूछताछ करना है। और फिर घटना की लापरवाही और ज़िम्मेदारों की जवाबदेही भी तय करना है। इसके लिए पहले ही एफ़आईआर दर्ज की जा चुकी है।”

“इस प्रकार की घटना सिर्फ हादसा ही नहीं है। अगर हादसा भी है तो उसके पीछे कौन ज़िम्मेदार है। इसका भी पता लगाया जाएगा।”

मुख्यमंत्री  योगी ने आगे कहा कि इस सबको देखते हुए सरकार ने तय किया है कि हम इसकी ज्यूडिशियल इनक्वायरी भी कराएंगे और ज्यूडिशियल इनक्वायरी हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज के अध्यक्षता में होगी जिसमें प्रशासन और पुलिस के रिटायर्ड अधिकारियों को भी रखा जाएगा। जो भी इसके लिए दोषी होगा उन्हें सजा होगी।

उन्होंने कहा, “इस पूरी घटना में ज़िम्मेदारों की जवाबदेही तय करने की दिशा में आगे कार्रवाई की जाएगी। प्रारंभिक जांच के बाद कार्रवाई को आगे बढ़ाया जाएगा।”

“इसके तह में जाना आवश्यक है, ताकि इसका पता लगाया जा सके इसके पीछे कौन ज़िम्मेदार है।”

  • बाबा पर एफ़आईआर नहीं होने के सवाल पर सीएम ने कहा कि एफआईआर हुई है और इसका दायरा बढ़ाया जाएगा। एफ़आईआर में अन्य लोग शामिल हैं। जो भी ज़िम्मेदार है वो अन्य लोग में आएंगे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.