अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव में भी अभद्र भाषा का उपयोग

नई दिल्ली। भारत में नेताओं द्वारा भाषणों में भद्रता की मर्यादा भंग करना आम बात है। लेकिन इस बार अमेरिका के राष्‍ट्रपति चुनाव में भी अभद्र भाषा का उपयोग किया जा रहा है। यहां मतदान 3 नवंबर को होगा और अब डेमोक्रेट और रिपब्लिकन प्रत्‍याशियों के बीच सुर बेहद तीखे हो गए हैं। ऐसा पहली बार देखा जा रहा है।

इस चुनाव पर नजर रख रहे मान रहे हैं कि अमेरिकी इतिहास में ये पहला मौका है जब राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए किए जा रहे चुनाव प्रचार में तीखी शब्‍दावली का इस्‍तेमाल किया जा रहा है। पहले दोनों पक्षों के बीच होने वाली प्रेजिडेंशियल डिबेट में मुद्दों पर बहस में दोनों ही तरफ से अपना-अपना पक्ष रखा जाता था। लेकिन इस बार ऐसा कुछ दिखाई नहीं दे रहा है। इस बार की प्रेजिडेंशियल डिबेट एक दूसरे के ऊपर तीखे और कड़वे शब्‍दों से हो रही है। इस बार होने वाली डिबेट में मुद्दे गायब हैं और एक दूसरे पर केवल आरोप लगाने का दौर ही जारी है। हाल ही में ट्रंप ने बिडेन परिवार को अमेरिकी इतिहास का सबसे भ्रष्‍ट परिवार बताया है तो वहीं डेमोक्रेट की तरफ से कहा गया है कि ट्रंप राष्‍ट्रपति के काबिल इंसान नहीं हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.