भारत और पाकिस्तान ने परमाणु प्रतिष्ठानों की जानकारी साझा की

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान ने आज रविवार को अपने परमाणु प्रतिष्ठानों की जानकारी साझा की। दोनों देशे के बीच ये जानकारी परमाणु प्रतिष्ठानों पर हमला रोकने के लिए हुए समझौते के तहत साझा की गई। भारत और पाकिस्तान के बीच 31 दिसंबर 1988 को ये समझौता हुआ था जो 27 जनवरी 1991 को लागू हुआ। इसके तहत दोनों देश एक-दूसरे को हर साल एक जनवरी को अपने परमाणु प्रतिष्ठानों के बारे में सूचित करेंगे। इस साल 32वीं बार ये सूची साझा की गई है। पहली सूची 1992 में सौंपी गई थी।

कैदियों और मछुआरों की जानकारी भी साझा
इसके अलावा भारत और पाकिस्तान ने अपनी हिरासत में रखे गए आम कैदियों और मछुआरों की जानकारी भी साझा की। भारत ने 339 आम पाकिस्तानी कैदियों और 95 मछुआरों की सूची साझा की। वहीं, पाकिस्तान ने बताया कि उसकी कैद में 51 आम भारतीय कैदी और 654 मछुआरे हैं। भारत सरकार ने आम कैदियों, लापता सैन्यकर्मियों, मछुआरों को उनकी नाव सहित जल्दी रिहा करने और वापस भेजने की मांग की है। इस संदर्भ में भारत ने 631 मछुआरों और दो आम कैदियों की रिहाई और वापसी की प्रक्रिया तेज़ करने करने के लिए कहा है। साथ ही बचे हुए 30 मछुआरों और 22 आम कैदियों को कॉन्सुलर सुविधा देने की मांग की है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.