पाकिस्तान: सिंध में हिंदू विधवा से बलात्कार के बाद सिर काटकर निकाला मांस

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान में अल्‍पसंख्‍यक हिंदू लगातार कट्टरपंथियों के अत्याचार के शिकार हो रहे हैं। यहां के सिंध प्रांत में, जहां अधिकांश हिंदू रहते हैं, क्रूरता की सीमा पार करने वाली एक घटना सामने आई है। यहां एक विधवा हिंदू महिला के साथ हैवानों ने पहले बलात्कार किया और फिर उसकी पीट-पीटकर हत्‍या कर दी। दरिंदों ने इस हिंदू महिला के सिर को काट दिया और उसके अंदर से मांस निकाल ल‍िया। शर्मनाक यह है कि ​मामले को लेकर भारी विरोध के बाद तीन दिन के बाद सिंध पुलिस ने मामला दर्ज किया।

पाकिस्‍तानी हिंदू सांसद कृष्‍णा कुमारी ने बताया कि यह हिंदू महिला भील समुदाय की थी। उनके शव को बहुत ही खराब हालत में पाया गया है। महिला का सिर कटा हुआ था। यही नहीं महिला के कटे हुए सिर से पूरा मांस तक निकाल लिया गया था।

35 लाख हिंदू, सरकार की चुप्पी
हिंदू सांसद कृष्‍णा कुमारी ने बताया कि उन्‍होंने हिंदू महिला के गांव का दौरा किया। अल्‍पसंख्‍यक समूहों के भारी दबाव के बाद पाकिस्‍तानी पुलिस पहुंची और मामला दर्ज किया गया। पाकिस्‍तान की पत्रकार वीनगास ने बताया कि इस पूरे मामले को मीडिया ने हाइलाइट तक नहीं किया। यही नहीं इस क्रूर हत्‍याकांड के बाद न तो शहबाज सरकार और न ही बिलावल भुट्टो की सिंध सरकार ने कोई बयान जारी किया है। वीनगास ने सवाल किया कि क्‍या सिंध पुलिस दोषियों को अरेस्‍ट करेगी। क्‍या कभी अपनी मातृभूमि सिंध में हिंदुओं के साथ समान व्‍यवहार किया जाएगा। पाकिस्‍तान की कुल 22 करोड़ की जनसंख्‍या में केवल 4 प्रतिशत जनता ही अल्‍पसंख्‍यक है। पाकिस्‍तान की 2017 की जनगणना के अनुसार, देश में 35 लाख हिंदू और 25 लाख ईसाई रहते हैं। पाकिस्‍तान में हिंदुओं के साथ अक्‍सर मारपीट और मंदिरों को तोड़ने की खबरें आती रहती हैं। यही नहीं उन्‍हें इस्‍लामाबाद में मंदिर तक नहीं बनाने दिया जा रहा है। हिंदू लड़कियों का जबरन अपहरण करके उनके साथ निकाह और धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.